Top

ग्राम कोटा 2017 के विषय में

राजस्थान सरकार ने 2016 में फेडरेशन ऑफ इंडियन चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) के सहयोग से जयपुर, राजस्थान में ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक मीटिंग ष्ग्रामष् का सफलतापूर्वक आयोजन किया। ग्राम, देश में हुई सबसे बड़ी कृषि बैठक थी जिसने 54500 किसानों, 18900 आगंतुकों, 6 देशों के अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडलों, 10 अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों और 200 से अधिक कंपनियों को भागीदारी हेतु आकर्षित किया। इस सृजित गति को प्रोत्साहित करने हेतु अगले कदम के रूप में, फिक्की और राजस्थान सरकार, राजस्थान में कृषि सम्बन्धी महत्वपूर्ण जिलों में ग्राम की उपलब्धियों को दोहराना चाहती है।

कोटा राजस्थान के प्रमुख कृषि उत्पादन और व्यापार केन्द्रों में से एक है। पानी की उपलब्धता, तिलहन, मसालों, औषधीय फसलों, खट्टे फलों के उत्पादन के रूप में कोटा के महान सामर्थ्य, और यह सामर्थ्य ही मूल्यवर्धन के जरिये किसानों को भरपूर लाभांश प्रदान कर सकते हैं, इस तथ्य को पहचानते हुए राजस्थान सरकार, कोटा, राजस्थान में ग्राम की उपलब्धियों को पुनः दोहराने की उम्मीद का रही है। । तदनुसार, आरएसी ग्राउंड, शिवपुरी, कोटा, राजस्थान में 24 से 26 मई 2017 के बीच ग्राम कोटा का आयोजन किया जा रहा है।

ग्राम कोटा के प्रमुख उद्देश्यों में कोटा मंडल के किसानों को सबसे अच्छी कृषि पद्धतियों से परिचित करना होगा और कोटा की कृषि विकास की कहानी में अगली गुणात्मक छलांग की परिभाषा तय करना होगा।

इस कार्यक्रम में कोटा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले और इसके बाहर के कृषकों, शिक्षाविदों, प्रौद्योगिकीविदों, कृषि व्यवसाय कंपनियों और नीति निर्माताओं और सभी हितधारकों को - नए तरीकों और सर्वोत्तम कार्य व्यवहारों के माध्यम से चिरस्थायी कृषि और संबद्ध गतिविधियों के विकास में तेजी लाने के लिए- साथ में लाया जाएगा।

कोटा - कृषि शक्तियाँ
  • सोयाबीन
  • बीज मसाले
  • लहसुन
  • धनिया
  • धान
  • मौन पालन
  • हॉर्टिकल्चर (उद्यान विज्ञान)
  • औषधीय फसलें
  • दलहन